स्पीड पोस्ट क्या है ? What is Speed Post in Hindi?

स्पीड पोस्ट क्या है ? अगर हमारा स्पीड पोस्ट टाइम पर नहीं पहुंच रहा है तो क्या करना चाहिए ?

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

दोस्तों, अगर आप अपने डाकघर में जाकर कोई सामान, राखी या डाकुमेंट्स अपने दोस्त या अपने सगे-सम्बन्धी या रिलेटिव्स के पास भेजते हैं तो आप ऐसे में स्पीड पोस्ट का प्रयोग करते हैं। क्या आप जानते हैं कि स्पीड पोस्ट क्या होता है और इसे ट्रैक कैसे किया जाता है। आज हम इस पोस्ट में स्पीड पोस्ट क्या है ?,इसे ट्रैक कैसे किया जाता है ? अगर स्पीड पोस्ट में कोई प्राब्लम हुई हो तो आनलाइन शिकायत कैसे करें?, इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे। तो आइए जानते हैं स्पीड पोस्ट के बारे में।

स्पीड पोस्ट(Speed Post) क्या है ? What is Speed Post in Hindi?

स्पीड पोस्ट जैसा कि नाम से मालूम होता है कि यह त्वरित या तीव्र गति से पोस्ट पहुँचाने वाली सेवा है। जिससे कोई व्यक्ति अपने देश में एक स्थान से दूसरे स्थान पर तीव्र गति से पत्र व्यवहार या संदेश या आवेदन फार्म भेज सकता है। स्पीड पोस्ट की सेवा साधारण डाक सेवा से यह तीव्र गति से कार्य करता है।

भारत में स्पीड पोस्ट की शुरुआत 1986 में हुई थी। स्पीड पोस्ट की दरें दूरी व वजन के हिसाब से अलग -अलग होती है।

स्पीड पोस्ट को ट्रैक करना क्यों जरूरी है ?

अगर हम अपना सामान पोस्ट के द्वारा अपने दोस्त या अपने रिलेटिव्स के यहाँ भेजते हैं तो ऐसे कन्डीशन में आप जानना चाहते हैं कि आपका पोस्ट किस वक्त कहाँ पहुंचा है या जहाँ पहुँचना था, वहाँ डिलीवर हो गया या नहीं। कभी-कभी ऐसा भी होता है कि कई डाकुमेंट्स जो बैंक से आते हैं, ऐसे में पोस्टमैन आपका पोस्ट सही समय या सही तरह से किसी कारण नहीं कर पाते हैं तो आप खुद अपने स्पीड पोस्ट को ट्रैक कर सकते हैं।

डाक विभाग द्वारा स्पीड पोस्ट(Speed post) को ट्रैक कैसे करें ? How to track Speed Post ?

भारत में भारत डाक द्वारा आनलाइन की ट्रैकिंग शुरू किया गया है उसके द्वारा आप पता कर सकते हैं कि डाक कहाँ पर है और कब पहुँचेगी। आप जब भी अपने डाक को भेजते हैं तो आपको एक रसीद मिलती है, जिसमें एक नम्बर लिखा होता है। आपके स्पीड पोस्ट पर एक स्टीकर चिपका होता है जिसमें कन्साइनमेंट नम्बर लिखा होता है। यही नम्बर ट्रैकिंग के लिए इस्तेमाल होता है।

अब आपको एक वेबसाइट www.IndiaPost.gov.in पर जाना है। इस वेबसाइट पर जाने के बाद आप चार आप्शन देख सकते हैं कि
1.Internet based Track and Trace System -इसमें आप ट्रैक कर सकते हैं।2.Sms based Delivery Status – जब भी आपका पासवर्ड डिलीवर होगा sms द्वारा जानकारी प्राप्त हो जाती है।
3.Book Now Pay Later facility (BNPL)– अगर आप पोस्ट आफिस से कुछ खरीदना चाहते हैं जैसे -टिकट या कोई अन्य सामग्री तो आप यहां से खरीद सकते हैं।
4.Cash on Delivery -इसमें कैश आन डिलीवरी प्रदान किया जाता है।

इसके बाद आप Track and trace  आप्शन में जाकर ट्रैक कर सकते हैं। यदि यहाँ नहीं आ रहा हो तो आप Tools मे जाकर track and trace आप्शन में जाकर ट्रैक कर सकते हैं। Track and trace में जाने के बाद ट्रैक कन्साइनमेंट (Track consignment) को खोलते हैं।अब ट्रैक कन्साइनमेंट में दो बाक्स आते हैं जिसको आपको भरना होता है : कन्साइनमेंट नम्बर और कैप्चा कोड।

जब आप डाक को भेजते हैं तो आप एक रसीद प्राप्त करते हैं उस रसीद पर कन्साइनमेंट नम्बर लिखा होता है। इसी कन्साइनमेंट नम्बर को आपको पहले बाक्स में भरना होता है। दूसरे बाक्स में आपको कैप्चा कोड डालना होता है। उसके बाद आप सर्च पर क्लिक करेंगे।

उसके बाद आप अपना सिटी टू सिटी डिलीवरी मिली है आप उसका ट्रैकिंग देख सकते हैं। यदि आपने किसी राज्य में या किसी शहर में भेजी है तो जहाँ भी स्पीड पोस्ट का जो बार कोड होता है, जहाँ-जहाँ भी वो स्पीड पोस्ट का बार कोड स्कैन होगा। उस जगह का एक ट्रैक बन जाता है और आप इस तरह से ट्रैक को देख सकते हैं।

आप इस तरीक़े से ट्रैकिंग नम्बर डाल कर स्पीड पोस्ट का पता कर सकते हैं कि किस स्थिति में डाक पार्सल है। आप बहुत ही आसानी से स्पीड पोस्ट को ट्रैक कर सकते हैं।

स्पीड पोस्ट के फायदे – Advantages of Speed Post:

1.स्पीड पोस्ट के द्वारा आपका पार्सल बहुत ही जल्दी डिलीवर हो जाता है।
2.इसमें एक सिक्योरिटी होती है कि आपका पार्सल उसी व्यक्ति को ही प्रदान किया जाता है जिस व्यक्ति के पास आप के द्वारा भेजा गया है। वह सुरक्षित रहता है।
3.स्पीड पोस्ट से आप कम मूल्य में अपने सामान भेज सकते हैं।

यदि आपका स्पीड पोस्ट (Speed Post) नहीं हुआ है या कोई अन्य प्राब्लम हो तो आनलाइन शिकायत कैसे करें ?

यदि आप पार्सल भेजे हों और वह स्पीड पोस्ट नहीं हुआ हो और वापस आ गया हो या कोई अन्य प्राब्लम हो या आपका पार्सल उस स्थान पर डिलिवर ही नहीं हुआ है तो उसके लिए आपको कम्पलेन या शिकायत दर्ज करना पड़ता है। आप शिकायत दर्ज करने के लिए एक बार फिर www.IndiaPost.gov.in. वेबसाइट पर जाकर Help and support पर क्लिक करना है।

अब उसमें Register your complaint पर क्लिक करना है। उसके बाद एक फार्म की तरह पेज खुलता है जिसको आपको पूरा फिल अप करके अन्त में वेरिफिकेशन(verification) करके सबमिट कर देना है। सबमिट करने के बाद आपको कम्पलेन या शिकायत नम्बर मिल जाता है।

उसके बाद आपको फिर उस वेबसाइट पर जाना है और Track and trace पर जाकर उसमें Complaint पर क्लिक करते हैं। फिर उसमें कम्पलेन या शिकायत नम्बर और verification code इन्टर करके Track now पर क्लिक करते हैं तो कम्पलेन या शिकायत डिटेल आ जाती है और आप इसे चेक कर सकते हैं।
अगर आपको आनलाइन चेक करने में कोई परेशानी आती है तो आप Toll free 1924 नम्बर पर जो इंडियन पोस्ट द्वारा प्रोवाइड किया गया है। उस पर सोमवार से शनिवार सुबह 8 बजे से रात 8 बजे काल करके इन्क्वायरी कर सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.