प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhanmantri Awas Yojana)-

आज हम इस पोस्ट में प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में बताएंगे। प्रधानमंत्री आवास योजना क्या है ? इसके क्या उद्देश्य हैं? प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) और प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) क्या है ? प्रधानमंत्री आवास योजना के आवश्यक दस्तावेज,  प्रधानमंत्री आवास योजना को अप्लाई कैसे सकते हैं ? तो आइये जानते हैं प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में।

प्रधानमंत्री आवास योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना क्या है ?

Contents

प्रधानमंत्री आवास योजना का नाम पहले इंदिरा आवास योजना था लेकिन इसका नाम बदलकर प्रधानमंत्री आवास योजना कर दिया गया है। यह योजना 7 साल के लिए साल 2015 से 2022 तक के लिए है।इस योजना का लाभ आप साल 2022 तक उठा सकते हैं।प्रधानमंत्री आवास योजना में 2022 तक सभी व्यक्ति के पास खुद का अपना पक्का मकान होना चाहिए यह लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

PM आवास योजना को दो भागों में बाँटा गया है

1.प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण)
2.प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी)

Pradhanamantri Awas Yojana का क्या उद्देश्य है ?

प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य भारत में हर व्यक्ति के पास अपना खुद का घर होना चाहिये। अपना घर खरीदने के लिए आपके पास जो Minimum requirements हैं उसमें सरकार आपकी कैसे मदद कर सकती है ताकि भारत में हर व्यक्ति के पास 2022 तक अपना खुद का घर हो। 2022 तक 2.95 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

PM Awas Yojana की आवश्यक शर्तें क्या है ?

1.जो भी व्यक्ति इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं उनकी उम्र 21 से 55 साल होने चाहिए।

2.उस व्यक्ति के पास खुद का घर नहीं होने चाहिए।

3.यह योजना गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों के लिए है।

4.जिनके पास पक्का मकान नहीं है वो भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

5.व्यक्ति सरकार द्वारा कोई और घर का स्कीम का लाभ न लिया हो।

6.यदि आप विवाहित हैं तो दोनों के पास खुद का घर नहीं होना चाहिये।

7.इस योजना का लाभ लेने के लिए परिवार में महिला का नाम होना जरूरी है।

8.इस योजना का लाभ लेने के लिए परिवार की महिला मुखिया अथवा परिवार के पुरुष मुखिया और उसकी पत्नी को संयुक्त नाम में होना चाहिये और केवल उन मामलों में जब परिवार में कोई व्यस्क महिला सदस्य नहीं हो, आवास को परिवार के पुरूष सदस्य के नाम में किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण(Pradhanmantri Awas Yojana Gramin) –

1.प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) 29 नवम्बर 2016 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई थी। इस योजना के तहत लाभार्थियों का चयन सामाजिक, आर्थिक और जाति (2011जनगणना) के आँकड़ों के आधार पर किया जाता है।

2.सरकार द्वारा लाभार्थियों को 1,20,000 रुपये की धनराशि की सहायता प्रदान करती है। इसके साथ-साथ स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत लाभार्थियों को शौचालय बनाने के लिए 12,000 रुपये और भी देती है।

3.इस योजना के तहत मैदानी क्षेत्रों में सहायता राशि 1,20,000 रुपये है तथा गैर मैदानी क्षेत्रों में 1,30,000 रुपये की सहायता राशि है। इस योजना के तहत जरूरत पड़ने पर 70,000 रुपये तक का कर्ज भी ले सकते हैं।

4.लाभार्थियों का चयन बीपीएल प्रतीक्षा सूची के आधार पर किया जाता रहा है लेकिन अब लाभार्थियों का चयन सामाजिक और आर्थिक जनगणना वर्ष 2011 के आधार पर ग्राम सभा के द्वारा किए जाते हैं।

5.योजना में आधुनिक टेक्नोलॉजी की मदद से लाभार्थी की पहचान सुनिश्चित की जाती है। पहले एक घर बनाने में 314 दिन लगते थे लेकिन अब मात्र 114 दिन लगते हैं।

6.इस योजना के तहत अब 25 वर्ग मीटर तक मकान बनाए जाते हैं।

7.इस योजना के तहत मिलने वाली सहायता राशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में डाली जाती है।

 प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण(Pradhanamantri Awas Yojana Gramin) को कितने चरणों में पूरा करना है ?

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में दो चरणों में घरों का निर्माण करना है। पहले चरण में 2016 से 2019 तक चला, जिसमें 1 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य था।

दूसरा चरण 2019 से 2022 तक है जिसमें 1.95 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य है। दूसरा चरण 2019-2020 में 60 लाख घरों का निर्माण किया जाएगा तथा 2020 से 2021 में 70 लाख घरों का निर्माण किया जाएगा।और 2021 से 2022 मे 65 लाख घरों का निर्माण की जाएगी। 2022 आते-आते ग्रामीण क्षेत्रों में मकान बनाने के सपने को पूरा करना है।

प्रधानमंत्री आवास योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी (Pradhanamantri Awas Yojana Urban)-

इस योजना के तहत शहरी गरीबों की आवास की जरुरतों के लिए ऋण या लोन आधारित ब्याज सब्सिडी साकार की ओर से दिया जाएगा।शहरी गरीबों (EWS/LIG) द्वारा अधिग्रहण आवास के निर्माण के लिए होमलोन पर लोन आधारित सब्सिडी दी जाएगी।

यह योजना राज्यों, संघ राज्य क्षेत्रों, शहरों द्वारा विभिन्न भागीदारी से बनाए जा रहे आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) के आवासों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगा।
इस योजना के अन्तर्गत निर्मित सभी आवासों में अनिवार्य रूप से शौचालय की सुविधा भी होगी।

इस मिशन के अन्तर्गत आवासों को राष्ट्रीय भवन संहिता और अन्य भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) के अनुरूप भूकंप, बाढ़,चक्रवात, भू-स्खलन इत्यादि से सुरक्षा करने हेतु निर्माण करना है।

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी (Pradhanamantri Awas Yojana Urban) को कितने चरणों में पूरा करना है ?

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी को तीन चरणों में पूरा करना है –

1.पहला चरण अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक चला। जिसमें राज्यों, संघ राज्य क्षेत्रों से उनकी इच्छुकता के अनुसार 100 शहरों में घरों का निर्माण करना था।

2.दूसरा चरण अप्रैल 2017 से मार्च 2019 तक अतिरिक्त 200 शहरों में घरों का निर्माण करना था।

3.तीसरा चरण अप्रैल 2019 से मार्च 2022 तक सभी अन्य शेष शहरों में घरों का निर्माण करना है।

Pradhanamntri Awas Yojana Urban का लाभ कौन से लोग उठा सकते हैं ?

EWS (Economically weaker Section) आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग –

इसमें वे लोग आते हैं जिनकी वार्षिक आय (Annual Income) 3 लाख से कम होती है।इसमें आपको होमलोन पर 6.5%की सब्सिडी मिलेगी। आप चाहे होमलोन 8% पर ले 9% या 10% पर ले।

सरकार आपको 6.5%की सब्सिडी देगी। लेकिन आपको यह सब्सिडी केवल 6,00,000 तक के लोन अमाउंट पर मिलेगी।

LIG (Lower Income Group) निम्न आय समूह –

इसमें वे लोग आते हैं जिनका वार्षिक आय 3 लाख से 6 लाख के बीच में है।इसमें भी आपको सरकार 6 लाख लोन तक 6.5% की सब्सिडी देगी।

इस केटेगरी में आप 645 वर्ग फीट से छोटा ही घर ले पाएंगे। इस योजना का लाभ लेने के लिए यह जरूरी है कि उस घर की ओनर महिला का होना जरूरी है।

महिला ओनर का होना तभी जरूरी होता है जब आप नया घर खरीदना चाहते हैं या नया घर बनवाना चाहते हैं। यदि आप घर की मरम्मत करवाना चाहते हैं और उस पर लोन लेना चाहते हैं तो पुरुष भी ओनर हो सकता है। उसके लिए महिला का होना जरूरी नहीं है।

MIG1 (Medium Income Group ) मध्यम आय समूह –

इसके अंदर वे लोग आते हैं जिनकी वार्षिक आय 6 लाख से 12 लाख के बीच में है।इसमें आप बड़ा घर ले सकते हैं। आप 1700 वर्ग फीट का घर ले सकते हैं लेकिन आपको इसमें 4% या 4.5% का सब्सिडी मिलेगा। इसमें आपको 9 लाख तक के अमाउंट पर ही 4.5% सब्सिडी मिलेगा।

MIG2 (Medium Income Group ) मध्यम आय समूह –

इसके अंदर वे लोग आते हैं जिनकी वार्षिक आय 12-18 लाख होने चाहिए।इस योजना के तहत ये लोग लगभग 2150 वर्ग फीट तक का घर ले सकते हैं। इसमें आपको सब्सिडी 1,20,000 रुपये तक के अमाउंट पर 3% ही सब्सिडी मिलेगी।

इसे भी जाने-

PM SVANIDHI SCHEME (पीएम स्वनिधि योजना) आवेदन 2020-

Atmanirbhar Uttar Pradesh Rojgar Yojana 2020

प्रधानमंत्री आवास योजना के आवश्यक दस्तावेज-

पैन कार्ड (अनिवार्य ) और नीचे दिये गये दस्‍तावेजों में से कोई एक

1.वोटर कार्ड

2.आधार कार्ड

3.वैध पासपोर्ट

4.ड्राइविंग लाइसेंस

5.फोटोयुक्त क्रेडिट कार्ड

6.सरकारी निकाय द्वारा जारी किया गया फोटोयुक्त पहचान पत्र

7.मान्‍यताप्राप्त लोक अधिकारी या लोक सेवक द्वारा ग्राहक के फोतोहुक्त पहचान का सत्यापन (30 दिन से पुरानी नहीं हो

पते का प्रमाण-

निम्नलिखित दस्‍तावेजों में से कोई भी एक :

1.वोटर कार्ड

2.आधार कार्ड

3.वैध पासपोर्ट

4.मान्‍यताप्राप्त लोक अधिकारी या लोक सेवक द्वारा सत्यापित ग्राहक का फोटोयुक्त पहचान पत्र (30 दिन से पुरानी नहीं हो)

5.नवीनतम यूटिलिटी बिल

6.स्‍टैंप पेपर पर किराये का अनुबंध

7.किसी भी कॉमर्शियल राष्‍ट्रीयकृत बैंक का बैंक स्‍टेटमेंट जिसमें कर्जदार का पता परिलक्षित होता हो

8.क्रेडिट कार्ड का स्‍टेटमेंट, 3 महीने से ज्‍यादा पुराना न हो

9.जीवन बीमा पॉलिसी

10.नियोक्‍ता द्वारा कंपनी के लेटरहेड पर रेजीडेंस एड्रेस सर्टिफिकेट/पत्र

11.प्रॉपर्टी (रेजिडेंस) के बिक्री विलेख की प्रति, अगर स्वामित्व में है तो

12.नगर पालिका या संपत्ति कर की रसीद

13.डाकघर बचत बैंक खाते का स्‍टेटमेंट

14.सरकारी विभाग अथवा पब्लिक सेक्‍टर अंडरटेकिंग्‍स द्वारा सेवानिवृत्‍त कर्मचारियों को जारी किये गये पेंशन या फैमिली पेंशन पेमेंट ऑर्डर्स (पीपीओज), यदि उनमें पता है

15.राज्‍य या केंद्र सरकार विभाग, वैधानिक या विनियामक निकाय, और पब्लिक सेक्‍टर अंडरटेकिंग्‍स, शेड्यूल्‍ड कॉमर्शियल बैंक, वित्‍तीय संस्‍थानों, और सूचीबद्ध कंपनियों द्वारा जारी नियोक्‍ता से आवास आवंटन का पत्र। इसी तरह, ऐसे नियोक्‍ताओं के साथ लीव एंड लाइसेंस अनुबंध जो आधिकारिक आवास आवंटित करते हैं

16.विदेशी न्‍यायिक क्षेत्र के सरकारी विभागों द्वारा जारी दस्‍तावेज और भारत में विदेशी दूतावास या मिशन द्वारा जारी पत्र

आय का प्रमाण-

नीचे दिये गये सभी दस्‍तावेज :

1.पिछले 2 महीने की सैलरी स्लिप

2.वेतन खाते का पिछले 6 महीने का बैंक स्‍टेटमेंट

3.नवीनतम फॉर्म 16/आइटीआर

चालू ऋणों से सम्बंधित दस्‍तावेजों के साथ-साथ 6 महीने का रिपेमेंट बैंक स्‍टेटमेंट

नीचे दिये गये सभी दस्‍तावेज :

1.संपत्ति के संपूर्ण श्रृंखलाबद्ध दस्‍तावेजों की प्रति (यदि लागू हो)

2.विक्रय अनुबंध की प्रति (यदि क्रियान्वित है)

3.आवंटन पत्र/क्रेता अनुबंध की प्रति (यदि लागू हो)

4.डेवलपर को किये गये भुगतान की रसीद की प्रति (यदि लागू हो)

प्रधानमंत्री आवास योजना अप्लाई-

प्रधानमंत्री आवास योजना अप्लाई आप तीन तरीकों से सकते हैं –

1.यह योजना सारे सरकारी बैंकों में, प्राइवेट बैंकों में, हाउसिंग फाइनेंस कंपनी और स्माल फाइनेंस कंपनी में उपलब्ध है। आप इनमें से किसी का भी चयन करके अप्लाई कर सकते हैं।

2.आप इस योजना का लाभ लेने के लिए आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस सरकारी वेबसाइट https://pmaymis.gov.in/ पर जाकर आनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

3.Common Service Center पर भी जाकर आप इस स्कीम के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
यदि आप इस योजना का लाभ उठाने के लिए योग्य है और आपको लोन नहीं मिल रहा है तो उसके लिए सरकार ने एक टोल फ्री हेल्प लाइन नम्बर 1880-11-3377 (National Housing Board के अन्तर्गत) शुरू किया है तो आप उस हेल्प लाइन नम्बर की मदद ले सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना में साल 2022 तक सरकार का लक्ष्य है कि सबको आवास प्रदान किया जाये ताकि नये भारत के सपने को साकार किया जा सके।

आज हम इस पोस्ट में प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में बताएं । यह पोस्ट आपको पसंद आये तो अपने दोस्तों में शेयर जरुर करें ।

Share Karo Na !
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment