Cancel cheque क्या होता है? इसे कैसे बनाते हैं ?

बैंक चेक cheque का नाम तो आप लोगों ने सुना ही होगा  बैंक चेक  वित्तीय लेन -देन में नगद रुपयों के बाद आर्थिक लेन -देन का महत्वपूर्ण साधन है, चेक के कई प्रकार होते है जिसमें आज हम Cancel cheque बारे में बतायेगें।  हममें से बहुत लोगों को यह नहीं पता होगा कि ये Cancel cheque क्या होता है? कैंसिल चेक की जरूरत कहाँ पड़ती है ? Cancel cheque कैसे बनाते हैं ? तो आइए जानते हैं इसके  के बारे में।

cancel

कैंसिल चेक(Cancel cheque) क्या है?

कैंसिल चेक सामान्य चेक की तरह ही होता है। सामान्य चेक के बीच में दो तिरछी लाइनें खीचकर उसके बीच में “CANCELLED” लिख दिया जाता है। Cancelled cheque का इस्तेमाल पैसों को निकालने के लिए नहीं किया जा सकता है।

इससे केवल कोई व्यक्ति Account Information ही प्राप्त कर सकता है। कैंसिल चेक को कैंसिल इसलिए किया जाता है ताकि कोई व्यक्ति उसका गलत उपयोग ना कर सकें।

Cancel cheque की जरूरत क्यों पड़ती है ?

कैंसिल चेक पर आपके बैंक से सम्बन्धित सारी जानकारियां होती है। आपके द्वारा उपलब्ध कराये गए सूचना सही है या नहीं। तो सबूत के तौर पर आपको कैंसिल चेक  देना होता है। और इसी कारण से Cancel cheque लिया जाता है और इसका गलत उपयोग न हो सके।

इस चेक से कोई भुगतान नहीं कर सके इसलिए इस पर क्रास करके Cancelled लिख दिया जाता है। यह केवल आपके ID के रूप में लिया जाता है।

https://www.youtube.com/watch?v=3EWgICbzINo

Cancel cheque कैसे बनाते हैं ?

Cancelled cheque बनाना बहुत आसान है। Cancel Cheque बनाने के लिए आप पहले चेक पर 2 तिरछी लाइन खीचिए। 2 तिरछी लाइन खीचने के बाद आपको दोनों लाइनों के बीच में Cancelled लिखना है।

अब आपका कैंसिल चेक बनकर तैयार है। आप इस तरह से किसी भी बैंक के चेक को कैंसिल चेक बना सकते हैं। चेक कैंसिल करने के लिए आपको हमेशा नीला या काले रंग के पेन का इस्तेमाल करना चाहिए। कैंसिल चेक को कभी साइन नहीं करना चाहिए।

Cancel cheque से कौन-सी जानकारियां मिलती है ?

  1. अकाउंट होल्डर या खाता धारक का नाम
  2. बैंक अकाउंट या खाता संख्या
  3. IFSC कोड (Indian Financial System code)
  4. MICR कोड (Magnetic Ink Character Recognition)
  5. बैंक का नाम
  6. शाखा का नाम तथा अन्य जानकारी

Cancel cheque की जरूरत कहाँ पड़ती है ?

1.जब आप किसी काम के लिए बैंक से लोन लेते हैं जैसे कि होम लोन, कार लोन, एजुकेशन लोन आदि तो इसे किस्तों में (EMI Payment) लौटाना होता है। वहाँ पर आपको Cancel Cheque की जरुरत पड़ती है। बैंक वाले स्योर होना चाहते हैं कि आपका बैंक अकाउंट है जहाँ से आप EMI भर सकते हैं।

2.शेयर बाजार में पैसा लगाने के लिए या Stock Brokerage के लिए भी कैंसिल चेक जमा करने की जरूरत पड़ती है।

3.यदि आप mutual funds में Investment करना चाहते हैं तो इसके लिए KYC करवाना होता है और अपने बैंक के खाते के Verification के लिए आपको Cancel Cheque की जरूरत पड़ती है।

4.यदि आप Insurance या बीमा पॉलिसी लेते हैं तो उनकी जो KYC की Compliances होती है तो उसके लिए कैंसिल चेक की जरूरत पड़ती है।

5.यदि आपको कहीं बैंक अकाउंट देना है या उसकी डिटेल्स देनी होती है तो वहां भी आप Cancel Cheque लगा सकते हैं।

6.यदि आप कुछ कम्पनी से किसी भी तरह के पेमेंट लेते हैं खासकर आनलाइन पेमेंट करना हो तो ऐसे में कम्पनी आपसे कैंसिल चेक  की माँग कर सकती है।

7.यदि आप ECS (Electronic Clearance Services) की सुविधा लेना चाहते हैं। (ECS का मतलब किसी प्रकार का भुगतान या कटौती प्रति माह करना) जब आपको ऐसी सुविधा चाहिए होती है तो तब बैंक आपसे Cancel cheque माँग सकती है।

8.EPF यानि Employee Provident fund से भुगतान करना चाहते हैं तो आपके बैंक खाते के डिटेल्स के रूप में यहाँ भी कैंसिल चेक देना होता है।

आज हम आपको इस पोस्ट में कैंसिल चेक के बारे में बताये है । उम्मीद है कि इस पोस्ट के माध्यम से आपको कैंसिल चेक के बारें में  पूरी जानकारी मिली होगी ।

 

 

Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment