LAC, LOC तथा अंतर्राष्ट्रीय सीमा (International Border) क्या है?

हैलो दोस्तों,  हमारे ब्लॉग में आपका स्वागत है । आज हम इस पोस्ट में LAC , LOC  और International Border के बारे में बताएंगे । इनमें क्या अन्तर है? तो आइए जानते हैं LAC, LOC और International Border के बारे में ।

Lac1

LAC (Line Of Actual Control) वास्तविक नियंत्रण रेखा क्या है ?

LAC को वास्तविक नियंत्रण रेखा (Line of Actual Control) कहते हैं। भारत और चीन के बीच की वास्तविक सीमा रेखा LAC है। LAC भारत और चीन सीमा पर खींची गई वह लाइन है जो भारत और चीन को एक दूसरे से अलग करती है। यह जम्मू-कश्मीर में भारत अधिकृत क्षेत्र और चीन अधिकृत क्षेत्र यानि कि अक्साई चीन को अलग करती है।

ये लद्दाख, कश्मीर, उत्तराखंड, हिमांचल प्रदेश, सिक्किम, अरुणांचल प्रदेश से होकर गुजरती है। भारत में LAC की 3,488 किमी लम्बाई कवर करती है। जबकि चीन में LAC की लम्बाई 2,000 किमी तक कवर होती है। इसे तीन सेक्टर में बाँटा गया है–

1.इस्टर्न सेक्टर (Eastern Sector)–

इसमें अरुणांचल प्रदेश और सिक्किम आते हैं। इस्टर्न सेक्टर में LAC पर मैकमोहन लाइन है जिसकी स्थिति को लेकर भारत और चीन के बीच विवाद है। ये भारत की इंटरनेशनल बाउंड्री को इंगित करता है।

2.मिडिल सेक्टर (Middle Sector)–

इसमें उत्तराखंड और हिमांचल प्रदेश आते हैं। इस सेक्टर की लाइन थोड़ी सी कम विवादित है।

3.वेस्टर्न सेक्टर (Western Sector) –

इसमें लद्दाख आते हैं। इस सेक्टर में सबसे बड़ा विवाद है, जहाँ से LAC शुरू हुई है।

इसे भी पढ़ें –

Equity Fund और Debt Fund क्या है ? इसमें निवेश से संबंधित आवश्यक जानकारी

KYC क्या होता है ? KYC का Full Form

LAC (Line of Actual Control) वास्तविक नियंत्रण रेखा कब बनी?

सन् 1962 में भारत और चीन युद्ध के बाद दोनों देशों के बीच शान्ति बनाये रखने के लिए दोनों देशों की सेनाएँ वहाँ तैनात थी और तब से लेकर यह वास्तविक रेखा नियंत्रण Line of Actual Control मान लिया गया।

उस समय से लेकर आज तक भारत-चीन देशों के बीच अब तक सीमा को लेकर कोई निष्कर्ष नहीं निकला है। इन दोनों देशों के बीच इस LAC को लेकर कभी सहमति नहीं बन पाई। सीमा पर कई इलाके दोनों देशों के बीच विवादित है ।

LOC (Line of Control) नियंत्रण रेखा क्या है?

नियंत्रण रेखा(Line of Control)  भारत और पाकिस्तान के बीच खींची गई 740 किमी लम्बी सीमा रेखा है और ये रेखा दोनों देशों के बीच विवादित बनी हुई है।

ये लाइन मैदानों, पहाड़ों और बर्फीले चोटियों से होकर गुजरती है। दुनिया में शायद ही कहीं और इतनी सेना तैनात है जितनी कि इस लाइन पर। लाखों जवान इस सैकड़ों किलोमीटर लाइन की देखभाल करते हैं।

LOC (Line of Control) कब बनी?

सन् 1947-1948 के युद्ध में दोनों देशों ने एक-दूसरे की चौकियों पर कब्जा कर लिया था। युद्ध विराम होने पर दोनों देशों की सेनाएं  वहीं डटी रही। उसके बाद ये रेखा युद्ध विराम की रेखा बन गई।

1971 में दोनों देशों में फिर जंग हुआ। युद्ध के बाद पूर्वी पाकिस्तान ने पाकिस्तानी सेना के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल ए०ए०के० नियाजी ने हिन्दुस्तान के इस्टर्न थियेटर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल के०एस० अरोड़ा के सामने समर्पण के कागजात पर दस्तखत किए।

फिर जुलाई 1972 में भारत और पाकिस्तान के बीच शिमला समझौता हुआ और इस समझौते के बाद ही दोनों देशों ने LOC को औपचारिक तौर पर स्वीकार किया था। इसके बाद सीजफायर लाइन आ गई जो नियंत्रण रेखा(Line of Control) बन गई।

वर्तमान LOC के अनुसार कश्मीर का एक तिहाई हिस्सा पाकिस्तान के पास है और दो तिहाई हिस्सा भारत के पास है। दोनों देशों के बीच इस सीमा को दुनिया की सबसे अधिक सैन्य संघर्ष वाली सीमा माना जाता है। दोनों देशों की ओर से भारी मात्रा में गोली-बारी सीमा पर चलती रहती है ।

IB

IB (International Border) अंतर्राष्ट्रीय सीमा क्या है?

भारत का इन्टरनेशनल बार्डर LOC और LAC से अलग है। अन्तर्राष्ट्रीय सीमा वह बार्डर लाइन है जिसको सभी देश मान्यता देते है। ये इलाका विवादित नहीं होता है। भारत की सीमाएं 7 देशों से लगती है।

भारत के अधिकारिक दस्तावेजों के अनुसार भारत की अन्तर्राष्ट्रीय सीमा 15,106 किमी है। इनमें भारत की चीन के सीमा की लम्बाई 3488 किमी, पाकिस्तान के साथ 3323 किमी, नेपाल के साथ 1751 किमी, भूटान के साथ 699 किमी,  अफगानिस्तान के साथ 106 किमी म्यांमार के साथ 1643 किमी और बांग्लादेश के साथ 4096 किमी है। भारतीय सीमा सबसे कम अफगानिस्तान के साथ तथा सबसे अधिक बांग्लादेश के साथ मिलती है।

अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर दोनों देशों की सहमति होती है और सीमा रेखा निश्चित होती है। भारत की अन्तर्राष्ट्रीय सीमा गुजरात के समुद्र तट से शुरू होकर राजस्थान, पंजाब और जम्मू तक जाती है। यह भारत को पाकिस्तान के चार प्रान्तों कश्मीर, बाघा, भारत और पाकिस्तान का पंजाब से अलग करती है।

अगस्त 1947 में भारत और पाकिस्तान के बीच खींची गई अंतर्राष्ट्रीय सीमा रेखा को रेडक्लिफ लाइन के नाम से जाना जाता है।

आज हम आपको इस पोस्ट में LAC, LOC और International Border के बारे में बताएं। उम्मीद है आप इनके बारे में अच्छी तरह समझ गए होंगे। यह पोस्ट अच्छी लगे तो शेयर भी जरूर करें।

 

 

 

 

Share Karo Na !
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment