कैप्चा (Captcha Code) क्या है ? इसके उपयोग लाभ व् विशेषताए

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

 

हैलो दोस्तों hindipedia.net में आप का स्वागत है आज हम आप लोगों को Captcha Code की विशेताए, लाभ व् उपयोग के उद्देश्य के बारें में बतायेगे।

कैप्चा (Captcha)

कैप्चा का नाम तो आपने सुना ही होगा। क्या आपको पता है कि कैप्चा क्या होताहै? और इसका इस्तेमाल कहाँ किया जाता है। कैप्चा हमारे दैनिक जीवन में हमेशा उपयोग की चीज नहीं है।

इसका अनुभव उपयोगकर्ता तब करता है जब वह इन्टरनेट पर निश्चित साइट पर कोई login कर रहा होता है या कोई एप्लिकेशन फार्म भरता हो तो उसके OK बटन के ऊपर कुछ टेढ़ेमेढ़े अक्षर या नम्बर के रूप में या दोनों के रूप मे दिखता है। उसे ही कैप्चा कोड कहते हैं। तो आइए जानते हैं कैप्चा कोड के बारे में:-

कैप्चा कोड (Captcha Code) क्या है ?

कैप्चा का पूरा नाम कंप्लीटेड आटोमेटेड पब्लिक टर्निंग टेस्ट टू टेल ह्यूमन अपार्ट (Completed Automated Public Turning Test To Tell Human Apart) होताहै। कैप्चा कोड टेढ़े-मेढ़े अक्षर या नम्बर के रूप में लिखा होता है।

कैप्चा कोड की मदद से ही कम्प्यूटर इस बात की पुष्टि करता है कि उपयोगकर्ता मानव है। इस जाचँ को कम्प्यूटर के माध्यम से पूरा किया जाता है। इस कारण से इसे रिवर्स टर्निंग टेस्ट भी कहा जाता है। कैप्चा को मानव को टाइप करने या हल करने में 10-15 सेकेण्ड का समय लगताहै। कैप्चा कोड का उपयोग सुरक्षा के लिए अति महत्वपूर्ण है ।

कैप्चा कोड (Captcha Code) का इतिहास

कैप्चा का इतिहास ज्यादा पुराना नहीं है। यह इण्टरनेट के पेजो की सुरक्षा को ध्यान मे रखकर इसकी संकल्पना का आविर्भाव हुआ। सन् 2000 में गौसबेक लेवचिन वेस्ट के अन्तर्गत कैप्चा का आविष्कार किया गया।हालांकि इसके बारे में कुछ लोग बताते है कि यह सन् 1997 में आया, इसका आविष्कार दो अलग-अलग टीमों के द्वारा हुआ।

पहले टीम के नामों मे मार्क डी, लिली ब्रिज मार्टिन आबादी, जे. बार्डर तथा दूसरे टीम के नामों में- इरान रे शेफ, गिल्ली रानन तथा एइलो सोल प्रमुख हैं। सन् 2003 मे लुईस बोहन की टीम द्वारा जब इसकी जानकारी दी गयी तब यह आम लोगों के बीच मे प्रचलित हो गया। कैप्चा सुरक्षा इंतजाम को पुख्ता बनाता है।

केप्चा (Captcha) की विशेषताएं

कैप्चा को मानव की पहचान क्षमता के आधार पर बनाया गया है। विभेदीकरण की क्षमता, अलग-अलग पदों में बाँटकर पहचान करने की क्षमता के आधार पर किया गया है।

इन वेरिएन्ट पहचान के अन्तर्गत कैप्चा के अक्षरों का आकार बड़ा बनाया जाता है, जिससे मानव मस्तिष्क आसानी से समझ सके।

कान्टेक्स (Parsing) में भी कैप्चा बनाया जाता है। इसके माध्यम से कैप्चा को समग्र या पूर्ण रूप से देखना पड़ता है और देखने के बाद कैप्चा को हल कर टाइप किया सकता है।

कैप्चा (Captcha) के उपयोग

आप कैप्चा का उपयोग निम्नलिखित रूप में कर सकते हैं–

  • कैप्चा का उपयोग कृत्रिम बुद्धि के रूप में सुरक्षा में प्रयोग किया जाता है। अहन, ब्लम् तथा लंग्फोर्ड के अनुसार कोई भी ऐसा प्रोग्राम जो कैप्चा को टेस्ट में पास करता है तो वह मुश्किल से अनसुलझे समस्याओं के समाधान में किया जाता है। तथा इस प्रकार मानव व कम्प्यूटर के बीच में अन्तर जारी रहेगा।

  • कैप्चा एक टेस्ट एवं न्युमेरिक फार्मेट होता है। जिसका उपयोग व्यक्तियों द्वारा किया जाता है। कुछ विशेष व्यक्तियों के लिए voice कैप्चा का भी निर्माण हुआ है। कैप्चा का उपयोग विभिन्न प्रकार के एप्लिकेशन फार्म भरने में , Gmail  में,  Facebook  में। इसके अलावा विभिन्न प्रकार की सुरक्षा सम्बन्धी साइटों में इसका उपयोग किया जाता है।

  • कैप्चा का उपयोग ई-कामर्स के क्षेत्र में बहुतायत में किया जाता है। इसमें ई-कामर्स की वेबसाइटों में सु रक्षा को पुख्ता करने के उद्देश्य से किया जाता है। जैसे- टिकट बुक करने में (रेल, हवाई जहाज), होटल बुकिंग में, आनलाइन शापिंग में, हैकर से सुरक्षा प्रदान करने, में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

  • इस समय हमारे वेब पेजों के सुरक्षा को ध्यान में रखने के लिए आप कैप्चा साफ्टवेयर का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि आज आपके खाते की सुरक्षा में सेंध लगाने व उसका गलत उपयोग करने की घटनाएं ज्यादा देखी जाती है। इसलिए कैप्चा का उपयोग आवश्यक है।
  • किसी ब्लॉग को स्पैम से बचाने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। क्योंकि इस पर ध्यान न देने से कोई आपके ब्लॉग का गलत उपयोग कर सकता है। और वह आपकी प्रतिष्ठा व सत्यता पर असर पड़ सकता है। और आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है। इसलिए कैप्चा का प्रयोग आवश्यक है।

KYC क्या होता है ? KYC का Full Form

कैप्चा (Captcha) के प्रकार

मानक कैप्चा

जब किसी सुरक्षा की चेकिंग होती है तो मानक कैप्चा का उपयोग किया जाता है।

मैथ समस्या कैप्चा

इसमें अंकीय संक्रिया होती है। इसमें यूजर को अंकगणितीय संक्रियाओं से गुजरना होता है।

पिक्चर पहचान

इस कैप्चा में मानव यूजर की पहचान करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। इसमें आपको पिक्चर (Picture) सेलेक्ट करने होते हैं।

3D कैप्चा

3D कैप्चा को सुपर कैप्चा कहा जाता है। इसमें चित्र और वर्णों का भी प्रयोग किया जाता है। इसे हल करना थोड़ा कठिन होता है।

ऐड इंजेक्शन कैप्चा

इसका प्रयोग वेबसाइटों पर पब्लिश करके कुछ कैश अर्जित किया जाता है। इसका प्रयोग भारतीय रेल सेवा में किया जाता है इसमें लिखा होता है I am not Robot”

उपरोक्त दिये गए कैप्चा के विभिन्न प्रकारों का उपयोग सुरक्षा सम्बन्धी कृत्रिम बुद्धि(रोबोट)और मानव में अन्तर करना है। और मानव यूजर को इसकी मंजूरी प्रदान करने से है।

कैप्चा (Captcha) के लाभ व कमियाँ

1.कैप्चा के लिए यदि ऊपर दिया गया कैप्चा को यदि पढ़ने मे मुश्किल होती है तो इसमें री- कैप्चा के विकल्प को सुन सकते है। और नया कैप्चा प्राप्त करते है और यदि युजर नेत्रहीन है या द़ृष्टि दोष से ग्रसित है तो वह इसका प्रयोग नही कर सकता है। कुछ समय पश्चात इस समस्या के समाधान हेतु आडियो कैप्चा का विकास हुआ

2.कैप्चा मे कुछ अंकिय समस्या को दिया जाता है तथा इस अंकगणितीय संक्रिया को करना कुछ मुश्किल होता हैं। जो मानव युजर इसे जल्दी हल करते है वे आगे के स्टेप मे जाते है इस कैप्चा का उपयोग अन्य प्रकारो जितना सुरक्षित नहीं है । यह अक्षर प्रकिया व HTML (Hyper Text Markup Language) मे इसका प्रयोग किया जाता है ।

3. चित्र कैप्चा होता हैं इसमें आपको बहुत सारे ईमेज मे से आवश्यक उपयुक्त ईमेज चुनना होता है । यह ईमेज चुनाव करना कठिन होता है।

4.कुछ कैप्चा मे ईमेज के साथ अक्षरों व अंको दोनों का प्रयोग किया जाता है। जो औरो की अपेक्षाकृत बहुत मुश्किल होता है और इसमे सुरक्षा सबंधी गुण अधिक होता है।

दोस्तों आशा करते है कि आपको कैप्चा (Captcha) के प्रकार उपयोग व् लाभ बारें में पूरी जानकारी मिली होगी ।  यह पोस्ट अच्छी लगी  हो तो comment करे ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.